Romantic Shayari in hindi – Read here best Romantic Shayari in hindi expressing love sentiments of a lover’s heart. Share these Romantic Shayari as a Sms or status and tell your feelings. Romentic shayari for girlfriend share your filling about love with girl and boys.

ज़हर मोहब्बत का कुछ ऐसे हुआ,
क्या कहें प्यार कैसे हुआ,
उनकी एक झलक पे निसार हुए हम,
सादगी में मरमिटे और आँखों से इकरार हुआ…!

इतनी हाय इतना तबस्सूम क्यों है आज इन आखों में
क्यों बहक रही है तू क्या बसा है इन साँसों में,
है तू मेरा अक्स मेरी परछाई मेरी जान तू,
आ मैं भर दू बस फूल ही फूल तेरी इन राहों में…!

उम्र क्या कहु काफी नादान है मेरी
सबको प्यार देना पहचान है मेरी
आपका दिल ज़ख्मो से भरा हो तो हमसे मिलो
दिलो को रिपेयर करने की दुकान है मेरी !!

दिल में आप की हर बात रहेगी,
बस्ती छोटी है मगर आबाद रहेगी,
चाहे हम भुला दे सारे ज़माने को,
लेकिन आपकी हर अदा याद रहेगी. .!!

खुशबु तेरे प्यार की मुझे महका जाती है,
तेरी हर बात मुझे बहका जाती है,
साँसें तो बहुत देर लेती है आने जाने में,
हर सांस के पहले मुझे तेरी याद आती है

ज़िन्दगी एक फ़साना था..
उनकी आँखों में एक अफसाना था..
हम तो अपनी रूह छोड़ आये उनके जिस्म में..
उन्हें गले लगाना तो एक बहाना था!!!

प्यार इतना है मेरे दिल मे सनम,
रूह भी मेरी खिंचने लगती है,
चैन मिलता है जब मैं देखूं तुझे,,
तो मेरी ये, सांस रुकने लगती है…

न जाने कब वो हसीन रात होगी,
जब उनकी निगाहें हमारी निगाहों के साथ होगी,
बैठे है हम उस रात के इंतज़ार में,
जब उनके होंठों की सुर्खियां हमारे होंठों के साथ होगी…

लिख दूं….तो लफ्ज़ तुम हो
सोच लूं….तो ख़याल तुम हो
मांग लूं….तो मन्नत तुम हो
चाह लूं….तो मुहब्बत भी….तुम ही हो..

मुझसे नफरत करके भी खुस न रह पाएंगे…..
मुझसे दूर जाकर भी पास पाएंगे….
प्यार में दिमाग पर नहीं दिल पे ऐतबार करके देखिये…..
अपने आपको मेरे रोम रोम में बसा पाएंगे…

हंस के खामोशियो को दिल में चुरा लो ,
दर्द के लम्हों को दिल से हटा दो ,
मगर जो पल हसरतो के मायने मुस्कान दे आपको ,
उस बीते हुए पल को ज़िन्दगी का एहशान बना लो

तरस गयी हैं निगाहें वो नज़र तो आ जाएँ
मुझे न मिले मेरी तरफ तो आ जाएँ
मैं उसकी याद को दिल से निकाल दूँ लेकिन
किसी तरह मुझे यह हुनर तोह आ जाए.

प्यार की वारदात होने दो.
कुछ तो ऐसे हालात होने दो.
लफ्ज़ अगर बात नहीं कर सकते.
तो आँखों की आँखों में बात होने दो.

मोहब्बत की हवा जिस्म की दवा बन गयी,
दूरी आपकी मेरी चाहत की सज़ा बन गयी,
कैसे भूलूँ आपको एक पल के लिए,
आपकी याद हमारे जीने की वजह बन गयी.

जो कभी हो तेरे दिल में सवाल,
की कितनी है मुझे ज़रूरत तेरी..??
तोह ज़रा अपनी सांस रोक कर,
साँसों की तलब महसूस कर लेना …!!

दिल में छिपी यादो से सवारू तुझे
तू दिखे तो अपनी आँखों मै उतारू तुझे
तेरे नाम को मेरे लबों पर ऐसे सजाया है
सो भी जाऊ तो ख्वाबो में पुकारू तुझे!

हसरत है सिर्फ तुम्हें पाने की,
और कोई ख्वाहिश नहीं इस दीवाने की,
शिकवा मुझे तुमसे नहीं खुदा से है,
क्या ज़रूरत थी तुम्हें इतना खूबसूरत बनाने की

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *